छत्तीसगढ़ में हरेली त्यौहार क्यों मनाया जाता है, क्या है इसकी मान्यताएं?

हरेली त्यौहार Hareli Tihar kab hai 2023 :- दोस्तों अगर आप भी छत्तीसगढ़ से हैं और अभी तक नहीं जानते कि छत्तीसगढ़ में हरेली त्यौहार (why Hareli tihar) क्यों मनाया जाता है? और क्या है इसकी मान्यताएं और क्यों इतना महत्व दे जाता है, छत्तीसगढ़ में छत्तीसगढ़ के हरेली तिहार (Hareli tihar) के बारे में, आज हम आपको डिटेल से इस आर्टिकल Chhattisgarh mein hareli tyohar kyon manaya jata hai में बताने वाले हैं, तो ध्यान पूर्वक आगे बढ़ते रहें और अपने दोस्तों के साथ भी शेयर जरूर करें।

छत्तीसगढ़ के सभी किसान भाइयों को सबसे पहले हमारी टीम CG JOBS24.COM के द्वारा हरेली त्यौहार की बहुत-बहुत शुभकामनाएं और बधाइयां यह त्यौहार आपके जिंदगी में खुशियां और संप्रदा लेकर आए।

छत्तीसगढ़ का हरेली त्यौहार कब है?

छत्तीसगढ़ प्रदेश में 17 जुलाई को मनाया जाएगा हर्ष उल्लास के साथ हरेली त्यौहार, आपको बता दें इसे छत्तीसगढ़ के पहले त्यौहार के रूप में मनाया जाता है, जोकि है छत्तीसगढ़ के जनजीवन में रचा बसा खेती किसानी से जुड़ा पहला त्यौहार, इसमें अच्छी फसल की कामना के साथ-साथ खेती किसानों से जुड़ी औजारों की भी पूजा की जाती है।

हरेली त्यौहार क्यों मनाया जाता है?

मेरे छत्तीसगढ़ के भाइयों और बहनों आपको बता दें हरेली त्यौहार मुख्य रूप से छत्तीसगढ़ प्रदेश में ही मनाया जाता है, आप सभी जानते होंगे कि हमारा छत्तीसगढ़ राज्य कृषि प्रधान प्रदेश है और यहां के अधिकांश आबादी कृषि वर्ग से आती है, हरेली पर्व किसानों से ज्यादा ताल्लुक रखता है क्योंकि किसानो के खेत में फसल हरा भरा हो जाता है, तब हरेली त्यौहार मनाते हैं आपको बता दें हरेली तिहार अमावस्या अर्थात कृष्ण पक्ष अमावस्या को ही मनाया जाता है।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

CG छात्रावास अधीक्षक भर्ती परीक्षा का प्रवेश पत्र हुआ जारी,जानिए एग्जाम डेट

हरेली त्यौहार की मान्यताएं

दोस्तों हरेली त्यौहार छत्तीसगढ़ किसान भाइयों के लिए बहुत ही बड़ा और पारंपरिक लोक पर्व है, प्राचीन मान्यताओं के अनुसार सुरक्षा के लिए घरों के बाहर नीम की पत्तियां लगाई जाती हैं, इस दिन धरती माता की पूजा कर हम भरण पोषण के लिए उनका धन्यवाद व्यक्त करते हैं और पारंपरिक तरीके से लोग गेड़ी चढ़कर हरेली की खुशियां मनाते हैं।हैं छत्तीसगढ़ प्रदेश में हरेली त्यौहार बड़ा ही धूमधाम व उत्साह के साथ दिनभर मनाया जाता है आज के दिन खेती से जुड़े सभी औजार जैसे कि हल, हावड़ा ,कुदाली और कृषि यंत्र जैसे ट्रैक्टर आदि को नहला कर अच्छे से पूजा की जाती है।

आशा करता हूं कि आज की जानकारी आपको अच्छी लगी होगी और आप समझ पाए होंगे छत्तीसगढ़ में हरेली त्यौहार क्यों मनाया जाता है और इसकी क्या है मान्यता है ।

CG Mahila Paryavekshak Vacancy 2023 : छतीसगढ़ महिला सुपरवाइजर के रिक्त 440 पदों ऑनलाइन आवेदन शुरू

Back to top button
close