छत्तीसगढ़:- फीस नहीं आने का बहाना कर ,निजी स्कूलों में शिक्षकों का वेतन नहीं दिया तो होगी मान्यता रद्द पढ़िए पूरी खबर

रायपुर/रायगढ़ :- दोस्तों जैसा आप को पता है इस समय  कोरोना संकट के बीच निजी स्कूलों के प्रबंधन के लिए कलेक्टर और शिक्षा विभाग की ओर से आदेश जारी किया गया है. निजी स्कूल प्रबंधन कोअपने सभी कर्मचारियों को वेतन देने के अलावा किसी भी शिक्षक एवं कर्मचारी की सेवा समाप्त नहीं करने कहा गया है.

फीस नहीं आने का बहाना कर निजी स्कूल नहीं हटा पाएंगे शिक्षक व स्टाफ… देना होगा वेतन

  • स्टाप का वेतन देना जरुरी ,नहीं तो होगा कारवाही 
  • प्राइवेट स्कूल नहीं कर सकेंगे अपने शिक्षकों- कर्मचारियों की छंटनी

कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी ने राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 के तहत प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए आदेश पारित किया है. स्कूल संचालक के स्कूल संचालन के लिए ही खोले गए बैंक खातों में उपलब्ध राशि को अन्य खाते में ऑनलाइन ट्रांसफर को रोकने के लिए जिला शिक्षा अधिकारी और लीड बैंक मैनेजर से कार्रवाई करने कहा है.

  • राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 के तहत प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग

इस संबंध में जिला शिक्षा अधिकारी से स्कूल प्रबंधन के अलावा लीड बैंक मैनेजर को वाट्सएप के जरिए संदेश देने कहा गया है. इसके अलावा निजी स्कूल संचालकों को ताकिद किया गया है कि जो इस आदेश का पालन नहीं करेगा, उसके स्कूल की मान्यता रद्द की जा सकती है.

https://www.cgjobs24.com/archives/1822

 

Back to top button